अशोकारिष्ट क्या है? – Ashokarishta Syrup Uses & Benefits in Hindi

आयुर्वेद ने हमें अनेक प्रकार की औषधियां वरदान के रूप में प्रदान की हैं जो हमारे लिए अत्यंत लाभकारी हैं। उन्हीं में से एक हैं अशोकारिष्ट। Ashokarishta Syrup एक क्लासिक आयुर्वेदिक दवा है जिसके प्रमुख तत्व शराब है जो स्वयं उत्पन्न होती है और इसकी छाल, जो अशोक के पेड़ का हिस्सा है। अशोक वृक्ष। यह महिला विकारों, या मासिक धर्म के मुद्दों के साथ-साथ महिलाओं में हार्मोनल असंतुलन के लिए सबसे प्रसिद्ध उपचारों में से एक है।

हम अपने जीवन में छोटी-छोटी बीमारियों से बचाव के लिए कई तरह के घरेलू नुस्खे और जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल करते रहते हैं। इन जड़ी बूटियों में अशोकारिष्ट भी शामिल है, जिसे आयुर्वेद में कई तरह की बीमारियों के लिए उपयोगी माना गया है। यह मानव स्वास्थ्य के लिए कैसे उपयोगी है और किस-किस स्वास्थ्य समस्याओं के लिए इसका उपयोग किया जा सकता है, इसे गहराई पूर्वक समझने के लिए, इस पोस्ट में हम ashokarishta syrup uses in hindi के साथ-साथ ashokarishta benefits in hindi पर भी चर्चा करेंगे।

अशोकारिष्ट क्या है? (What is Ashokarishta?)

तो चलिए दोस्तों जानते है की अशोकारिष्ट क्या है? क्या आप जानते है, की अशोकारिष्ट एक आयुर्वेदिक औषधि है जो अशोक के पेड़ के छाल के साथ में पानी, गुड़, चन्दन, अदरक, आम का बिज, दरुहरिद्र, धातकी (एक औषधीय पौधा), सफेद जीरा और मुस्ता इत्यादि (एक विशेष जड़ी बूटी) को मिलाकर तैयार किया जाता है। इसका इस्तेमाल खासतौर पर महिलाओं के लिए किया जाता है। क्योकि महिलाओ को बहुत सारे परेशानियों से होकर गुजरना होता है जैसे- महिलाओं को मासिक धर्म, असंतुलित हार्मोन, पेट दर्द और पीठ दर्द जैसी मुसीबतों से होकर गुजरना पड़ता है। इसके अलावा अशोकारिष्ट मर्दों के लिए भी कई प्रकार के स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याओ के लिए भी उपयोगी है।

Ashokarishta Syrup

अशोकारिष्ट कैसे कार्य करती हैं?

दोस्तों हम जानेंगे की अशोकारिष्ट कैसे कार्य करती हैं?

  • अशोक की पेड़ की छाल त्वचा के लिए फायदेमंद होती है और खूबसूरती बढ़ाने में भी काम आती है।
  • धातकी में हीलिंग गुण होते हैं, जो महिला स्वास्थ्य को जल्दी ठीक करने में मदद करते हैं।
  • मुस्ता में भूख बढ़ाने वाले और जलन रोधी गुण होते हैं। साथ ही, यह गर्भाशय को अच्छे बनाए रखने में मदद करता है।
  • हरीतकी में एंटीऑक्सीडेंट (antioxidant) और इम्यूनोसप्रेसिव (Immunosuppressive) गुण पाए जाते है, जो सामान्य कमजोरी को दूर करने में सहायक होते हैं।
  • इसके अलावा, यह दवा मासिक धर्म के दौरान होने वाले संक्रमण के जन्म या प्रसार को रोककर अपना प्रभाव साबित करती है।

अशोकारिष्ट का औषधीय गुण

चलिए जानते है की अशोकारिष्ट में कौन-कौन से गुण पाए जाते है। अशोकारिष्ट में निम्नलिखित गुण पाए जाते है।

  • हृदय स्वास्थ्य के लिए। (Cardiotonic)
  • प्रतिरोधक क्षमता को नियंत्रित करता है। (Immune Modulator)
  • गैस से राहत (Carminative)
  • पाचन शक्ति को दुरुस्त करता है। (Digestive)
  • दिमागी शक्ति को दुरुस्त करता है। (Brain Tonic)
  • शारीरिक जलन को दूर करता है।

अशोकारिष्ट कैसे बनाया जाता है?

प्रसिद्ध आयुर्वेदिक योग ‘अशोकारिष्ट’ मुख्य रूप से अशोक के पेड़ की छाल का उपयोग करके बनाया जाता है। देश के कई आयुर्वेदिक निर्माण संस्थान अशोकारिष्ट बनाते हैं, जो प्रत्येक जगह दुकानों में उपलब्ध होते है। अशोकारिष्ट रक्त प्रदर, ज्वर, रक्त पित्त, रक्ताल्पता (खूनी बवासीर), अस्वस्थता, अरुचि, सूजाक, सूजन आदि रोगों को नष्ट करने में सक्षम है। अशोकारिष्ट को बनने में निमंलिखित सामग्री लगते है, जैसे –

  • अशोक की पेड़ का छाल
  • धातकी
  • अदरक
  • नागरमोथा
  • जीरा
  • बहेड़ा
  • हरड़
  • दरुहरिद्र
  • आवला
  • आम
  • अडूसा
  • गुड़
  • हरीतकी
  • मुस्तका (अखरोट की घास)
  • चन्दन इत्यादि का प्रयोग किया जाता है।

दोस्तों इसे अपने से बनाने की कोशिश न करे तो ही अच्छा है।

अशोकारिष्ट में पाए जाने वाले पोषक तत्व और खनिज कौन-कौन से हैं?

चलिए दोस्तों जान लेते है की अशोकारिष्ट में पाए जाने वाले पोषक तत्व और खनिज कौन-कौन से हैं? अशोकारिष्ट में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं। यह एक आयुर्वेदिक औषधि है जिसमे कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrates), फ्लेवोनोइड (Flavonoid), एल्कलॉइड (Alkaloids), टैनिन (Tannin), ग्लाइकोसाइड (Glycoside) इत्यादि खनिज पाए जाते हैं। यह हमें विभिन्न प्रकार की स्वास्थ्य समस्याओं से सुरक्षा प्रदान करता है।

  • कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrates)
  • फ्लेवोनोइड (Flavonoid)
  • एल्कलॉइड (Alkaloids)
  • टैनिन (Tannin)
  • ग्लाइकोसाइड (Glycoside)

अशोकारिष्ट का खुराक कैसे ले?

तो चलिए जानते है की अशोकारिष्ट का खुराक कैसे ले? दोस्तों अशोकारिष्ट का खुराक लेना बहुत ही आसान है तो जानते है की अशोकारिष्ट का खुराक कैसे ले? दोस्तों बाजार में बहुत सारे ब्रांड में Ashokarishta available है। आप Dabur Ashokarishta, बैद्यनाथ या फिर पतंजलि का इस्तेमाल कर सकते है।

वयस्क (महिला) Adult (Female) Dosage –

  • सामान्य: निर्धारित मात्रा का प्रयोग करें
  • अधिकतम खुराक: 10 मिली
  • खुराक का माध्यम: अरिष्ट
  • अशोकारिष्ट का सेवन : भोजन के बाद करे
  • लेने का तरीका: थोड़ा गर्म पानी
  • खुराक मार्ग: मौखिक

Ashokarishta Benefits in Hindi (अशोकारिष्ट के लाभ)

तो चलिए दोस्तों हम जान लेते है Ashokarishta Benefits in Hindi. ऐसे तो दोस्तों अशोकारिष्ट का सेवन करने से हमें अनेको फायदे है जो की निमंलिखित है –

1. Ashokarishta Syrup से पेट दर्द में सहायक

दोस्तों अशोकारिष्ट के औषधीय गुणों वाले भाग में हमने पहले ही उल्लेख किया है कि इसमें वायुनाशक (गैस से राहत) और पाचक (पाचन शक्ति को बढ़ाता है) दोनों गुण पाए जाते हैं। इसलिए अशोकारिष्ट गैस और अपच के कारण होने वाले पेट दर्द की समस्या को दूर करता है। अशोकारिष्ट में पाचन शक्ति बढ़ाने का गुण पाया जाता हैं और यह गैस से राहत दिलाने में प्रभावशाली है। अगर किसी को पेट में बदहजमी हो गया हो तो वह अशोकारिष्ट का इस्तेमाल कर सकता है। यह आपको तुरंत ही बदहजमी से छुटकारा दिलाता है।

2. Ashokarishta Syrup से मासिक धर्म में लाभ

मासिक धर्म की परेशानी को दूर करने के अलावा अशोकारिष्ट नियमित रूप से मासिक धर्म चक्र को संतुलित बनाए रखने में भी सहायक होता है। आपको बता दें कि डॉक्टरो के शोधों में यह पाया गया है की अशोकारिष्ट महिलाओं के स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में काफी फायदेमंद है। अशोकारिष्ट मासिक धर्म के दर्द की समस्या में एक अच्छा दर्द निवारक औषधि माना गया है। शोध में यह भी स्वीकृति कि गई है की अशोकारिष्ट महिला को पोषण प्रदान करके रक्त और प्रजनन प्रणाली को विनियमित करने के साथ-साथ बिगड़ते हार्मोनल के स्थिति को ठीक करने में मदद करता है।

3. प्रतिरोधक क्षमता को सुधार में

अशोकारिष्ट का उपयोग प्रतिरोधक क्षमता में सुधार के लिए भी किया जा सकता है। इसका प्रमाण डॉक्टरों द्वारा इस औषधि के शोध में पाया गया है। शोध में माना जाता है कि अशोकारिष्ट औषधि में रोग प्रतिरोधक क्षमता को नियंत्रित करने वाले गुण पाया जाता हैं। यह गुण कमजोर शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर फिर से मजबूत करने में मदद कर सकता है।

4. Ashokarishta Syrup अल्सर से राहत दिलाता है।

अल्सर की समस्या में भी अशोकारिष्ट से लाभ प्राप्त किया जा सकता है। अशोक वृक्ष से संबंधित एक शोध में इस बात का उल्लेख किया गया है। शोध में माना गया है कि अशोक के पेड़ में अन्य औषधीय गुणों के साथ-साथ अल्सर-रोधी (अल्सर-निवारक) गुण होते हैं। वहीं अशोक के अर्क का उपयोग करके अशोकारिष्ट औषधी तैयार किया जाता है। इसी आधार पर डॉक्टरों ने अशोकारिष्ट को अल्सर की समस्या से राहत पाने के लिए भी उपयोगी मानते है।

Ashokarishta Syrup uses in Hindi (अशोकारिष्ट का उपयोग)

दोस्तों Ashokarishta Syrup uses in Hindi के बारे में अब बात करते है। Ashokarishta Tonic का उपयोग बहुत सारी शारीरिक समस्याओ में किया जाता है जो की निम्नलिखित है –

  • स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं का इलाज के लिए
  • पेट दर्द से राहत में
  • मल त्याग के सुधार में
  • इम्युनिटी को बढ़ाने में
  • अल्सर से बचाव के लिए
  • मासिक धर्म में
  • ऑस्टियोपोरोसिस से राहत

Ashokarishta Syrup के दुष्प्रभाव (Side Effects) क्या हैं?

  • अगर कोई व्यक्ति उच्च रक्तचाप से पीड़ित है तो उसे अशोकारिष्ट औषधि सेवन नहीं करना चाहिए। इसका सेवन करने से पहले लोगों को डॉक्टर से बिचार परामर्श कर के ही इसका सेवन करे। नहीं तो आपके लिए यह घातक सबित हो सकता है। और आपको शरीर और पैसा दोनों से परेशानी उठाना पड़ सकता है।
  • अशोकारिष्ट का उपयोग मधुमेह वाले लोगो को ज्यादा मात्रा में करने से बचाना चाहिए। क्योकि उसमे गुड की मात्रा मिलाई जाती है। और इसको ज्यादा सेवन करने से आपकी मधुमेह की समस्या और बढ़ सकती है।
  • अशोकारिष्ट का उपयोग उन महिलाओ को करने से बचाना चाहिए। जो महिला गर्भवती और स्तनपान हो, उनको इसका उपयोग करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरुर लेना चाहिए।
  • अगर आप अशोकारिष्ट का इस्तेमाल आप करते है, और उसका खुराक आप ज्यादा मात्रा में लेते है तो आपके लिए यह गलत साबित हो सकता है। क्योकि इसकी खुराक ज्यादा लेने से आपके पेट में जलन और एसिडिटी हो सकता है।
  • अगर इसका इस्तेमाल महिलाए ज्यादा मात्रा में करती है तो उनको मासिक धर्म के नियमित समय में परेशानी हो सकती है।

तो दोस्तों आशा करते है की आपको अशोकारिष्ट के बारे में समझ में आ गया होगा। जैसे की अशोकारिष्ट क्या है?, Ashokarishta Benefits in Hindi, Ashokarishta Syrup uses in Hindi, इत्यादि, अगर ये सभी बाते आपको अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों में इसे शेयर जरुर करे। ताकि उनको भी इसके बारे में पता चले अगर आपको और भी बहुत सारी चीजो के बारे में जानकारी लेनी है तो आप हमारे Website Gotrends पे जाकर जानकारी ले सकते है।

Leave a Comment